Tuesday, 13 November 2012

***एक दीप जला दो ***

जगमगा उठे भारत भूमि ,
रोशनी फैल जाये चारों ओर ,
मिट जाये दिलों की अंधेरा ,
फैल जाये अमन भाईचारा ,
                               आज ये एलान करदो 
                                बस एक दीप  जला दो ......(1)
स्नेह प्यार का सन्देश फैला कर ,
मिट जाये दिलों की दूरियाँ ,
ज्ञान बिज्ञान की बत्ती जला कर ,
हट जाये अज्ञान की परछाईयाँ ,
                                  आशा की एक लौ जला दो ,
                                   बस एक दीप जला दो      (2)
तारों से सजी रहे आँगन सब की ,
हर चेहरे पे खुशियाँ हो ,
 सुख शांति का रहे बसेरा ,
इस धरती ही जन्नत का आधार हो,
                                      दुश्मन को भी दोस्त बना दो,
                                       बस प्यार का एक दीप जला दो (3)
न रहे बेसहारा कोई भी बच्चा ,
न रहे कोई भी भूखा प्यासा ,
न अवला पर अत्याचार हो ,
भ्रष्टाचार के राक्षस को जला कर ,
पापियों का सर्वनाश हो,
असत्य पर सत्य का विजय हो,
                                     फिर से सत्य की जोत जला दो ,
                                     बस एक दीप जला दो ..........(4)

1 comment:

  1. May the lamps of goodness shine upon you always!

    ReplyDelete